LATEST:


विजेट आपके ब्लॉग पर

रविवार, 25 अक्तूबर 2009

बच्चे का साल मे दो जन्मदिन


मैं आपसे एक प्रश्न करता हू आप सोच कर ज़वाब दीजिएगा क्या आपके एक ही बच्चे का एक ही साल मे दो जन्मदिन आता है लगता है आप सोच मे पड़ गये ..... इतना सोचने का नही है हमारे बिहार, झारखंड मे कई बच्चों के एक ही साल मे दो जन्मदिन होते है उनके स्कूल के रिकार्ड मे उनका जन्मदिन कुछ और दर्ज़ होता है जबकि बच्चे का वास्तविक जन्मदिन कुछ और होता है अमूमन ज़्यादतर माता-पिता स्कूल मे दाखिला के वक़्त बच्चे का उम्र कुछ घटा देते है.

1 टिप्पणी:

  1. कोनो बड़ी बात नहीं है. हमारे तो चार आते हैं! अब पूछिए कैसे. तो लो सुनिए. पैदाईश २० जनवरी रात १.३० बजे. मतलब २१ जनवरी की सुबह. हिन्दुओं के मुताबिक जबतक सूर्योदय नहीं होता, तारिख नहीं बदलती. दो दिन तो यहीं हो गए. बापू ने स्कूल में १७ जनवरी लिखा दिया. तो अब तीन हो गयी. जन्म नक्षत्र के हिसाब से वो तो अपने मन से जनवरी/फ़रवरी कभी भी आता है. यह चौथा हुआ. अब देखिये अप्पके पोस्ट के बराबर टिप्पणी भी हो गयी!

    उत्तर देंहटाएं